चुनावी रण-2019

टीआरएस प्रवक्ता ने कहा, थर्ड फ्रंट कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने को तैयार, पर राहुल को नेतृत्व नहीं सौपेंगे

टीआरएस प्रवक्ता ने कहा, थर्ड फ्रंट कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने को तैयार, पर राहुल को नेतृत्व नहीं सौपेंगे

 

हैदराबाद: मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने कहा कि क्षेत्रीय पार्टियों का थर्ड फ्रंट कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने को तैयार है, लेकिन उसे नेतृत्व नहीं सौपेंगा।

राव पिछले एक साल से गैर कांग्रेसी-गैर भाजपाई फ्रंट बनाने की कोशिशों में जुटे हैं। इसके लिए उन्होंने कई क्षेत्रीय दलों के नेताओं से बात भी की थी। हाल ही में वे डीएमके प्रमुख स्टालिन से भी मिले थे। हालांकि, इस मुलाकात में कांग्रेस के साथ को लेकर ठोस नतीजा नहीं निकला।

टीआरएस के प्रवक्ता रसूल खान ने कहा, उनकी पार्टी राहुल गांधी के नेतृत्व वाले फ्रंट के साथ समझौते के लिए तैयार है। राव का मानना है कि थर्ड फ्रंट सरकार का नेतृत्व करे और उसे चलाए।

बाहर से समर्थन दे कांग्रेस- खान

खान ने कहा, ”थर्ड फ्रंट की सीटें, सरकार बनाने के लिए जरूरी सीटों से कम आती हैं, तो कांग्रेस को बाहर से समर्थन देने का विकल्प तलाशना होगा। लेकिन सरकार थर्ड फ्रंट द्वारा ही चलाई जाएगी। कांग्रेस का समर्थन बाहर से रहेगा और प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार क्षेत्रीय पार्टियों में से होगा।”

भाजपा को समर्थन न देंगे और न लेंगे- टीआरएस

टीआरएस प्रवक्ता ने कहा, ”हम उनसे बात करने के लिए तैयार हैं और देखते हैं कि वे हमें सरकार बनाने के लिए समर्थन देने के लिए तैयार हैं, या नहीं। हालांकि, थर्ड फ्रंट भाजपा को किसी भी हालत में समर्थन नहीं देने वाला। हम भाजपा के विपरीत हैं। भाजपा के साथ कुछ भी नहीं रखना चाहते। न उन्हें समर्थन देंगे और न उनसे समर्थन लेंगे। यही राव की भी राय है।”

‘100 के पार नहीं पहुंचेगी कांग्रेस’

खान ने कहा, सपा-बसपा, वाईएसआर, डीएमके और टीआरएस इस चुनाव में बेहतर करेंगी, लेकिन कांग्रेस 100 सीटों का आंकड़ा पार नहीं कर पाएगी। अगर कांग्रेस 180-200 सीटें नहीं जीतती तो डीएमके जैसीं पार्टियां भी थर्ड फ्रंट के साथ आ जाएंगी। हमने लेफ्ट पार्टियों से भी बात करना शुरू कर दिया है, वे केरल और कुछ अन्य स्थानों पर अच्छा प्रदर्शन कर रहीं हैं।