आम मुद्दे

ट्रेन से गिरकर मौत के बाद गांव में शव पहुचते ही परिजनो में मचा कोहराम

सुनील गुप्ता

गाजीपुर मरदह।ट्रेन से गिरकर मौत के बाद गांव में शव पहुचते ही परिजनो में मचा कोहराम गांव में शोक कि दौड़ गई।थाना क्षेत्र के फेफरा गांव निवासी किसान शमशेर सिहं का पुत्र 24 वर्षीय विशाल सिहं गुड़गांव स्थित मारूती फैक्ट्री में काम करता था।कुछ दिनों पहले छुट्टी पर घर आया था।जो 29 जून घर से वापस ड्यूटी पर जाने के लिए निकला था।गाजीपुर से सुहलदेव एक्सप्रेस ट्रेन पकड़कर दिल्ली के लिए चला कि उसी रात को इटावा जनपद के भरथना रेलवे स्टेशन पर सुबह तीन बजे ट्रेन रूकी थी वह ट्रेन से पानी के लिए नीचे उतरा था कि तभी ट्रेन चल पड़ी थी उसे पकड़ने के चक्कर में वह ट्रेन के पायदान से फिसल कर गिर गया और घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई अगले दिन जीआरपी इटावा के प्रयास शव का शिनाख्त हुआ तो परिजनो को सूचना दी।जिसके बाद परिजन वहां पहुचे शव के पीएम के बाद जीआरपी ने परिजनो को सौप दिया।जिसके बाद परिजन मंगवार कि सुबह शव लेकर फेफरा गांव पहुचे तो गांव में शोक कि लहर दौड़ पड़ी और परिजनो मे कोहराम मच।पिता शमशेर सिहं व भाई दिवाकर सिहं का रो रोकर बुरा हाल था।
इनसेट- घटना कि जानकारी से चार दिनो तक अनभिग्ग रही मृतक की मां निर्मला देवी जिसका कारण यह था कि विशाल के घर से निकलने के एक दिन पहले 28 जून को निर्मला देवी माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए गई।दूसरे बहाने सूचना पाने के बाद बिना दर्शन किए ही जम्मू से वापस आई अपने लाल को नजरो के सामने लेटे देखकर दहाड़े मार कर रोने चिल्लाने लगी।मृतक गांव का होनहार युवक होने के कारण सबका चहेता था जिस कारण पूरे गांव में शोक कि लहर देखी गई।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button